सोमवार, 12 अक्तूबर 2009

क्या सब ओ.के. (O.K.) है? आइये जानें ओ.के. (O.K.) का सच और इतिहास...


ओ.के. (O.K.) शब्द हम सब अपनी ज़िन्दगी में रोज़ाना प्रयोग करते हैं. इस शब्द के बिना हमारा दैनिक जीवन अधूरा है. जब भी हम किसी से मिलते  हैं  तो ओ.के. (O.K.) शब्द का प्रयोग करते हैं. जब भी हम अपनी बात ख़त्म करते हैं तो ओ.के. (O.K.) का इस्तेमाल करते हैं. किसी भी बात की तस्दीक करने के लिए हम ओ.के. (O.K.) शब्द को ज़ोरदार तरीके से रखते हैं. कारपोरेट की दुनिया में यह ओ.के. (O.K.) शब्द के बिना कोई भी काम अधूरा है. किसी भी दस्तावेज़  का अनुमोदन इस ओ.के. (O.K.) शब्द के बिना पूरा नहीं होता. यह ओ.के. (O.K.) शब्द हमारे ज़िन्दगी का एक अभिन्न अंग बन चुका है. चाहे अनपढ़ हो या पढ़ा-लिखा ओ.के. (O.K.) ज़रूर बोलता है. ORG Survey के मुताबिक दुनिया का हर इंसान रोज़ाना अपने दैनिक जीवन में ओ.के. (O.K.) का प्रयोग कम से कम बीस बार ज़रूर करता है.


ओ.के. (O.K.) का प्रयोग सब तब करते हैं जब सब सही होता है और इसी सही को तस्दीक करने के लिए हम आखिर में ओ.के. (O.K.) बोलते हैं यानी की सब ठीक हैं. शब्दकोष (Dictionary) में भी अगर हम इसका मतलब देखें तो यह Colloquial (आम बोल चाल के शब्द) के रूप में ही दिखाई देगा. जिसका मतलब ALL CORRECT (सब सही या ठीक है) लिखा होगा. और यह भी लिखा होगा की यह ORL OR OLL KORREKT का संक्षिप्त रूप है.


हम हिन्दुस्तानी भी ओ.के. (O.K.) का प्रयोग अपने दैनिक जीवन में बहुत करते हैं, और ऐसा भी माना जाता है की पूरे विश्व में हिन्दुस्तानी ही इस शब्द ओ.के. (O.K.) का प्रयोग अपने जीवन में सबसे ज्यादा करते हैं.


आये दिन कई लोग मुझसे सवाल भी करते थे... कि यह ओ.के. (O.K.) क्या है? इसका पूर्ण रूप क्या है? और इसका क्या मतलब है? मुझे भी थोडा रुचि जगी, और मैंने इसे शोध करना शुरू किया. मैंने इसे इन्टरनेट पर wikipedia और भी कई websites पे देखा, लेकिन इसकी authenticity कहीं नहीं मिली. इन्टरनेट पर या फिर विकिपीडिया पर अगर कोई जानकारी है तो इसका मतलब यह नहीं है कि वो सही ही हो. यह मैं ही नहीं कहता ज़्यादातर अकादमिक लोग भी कहते हैं. मैंने जो शोध किया है, वो पूरी तरह AUTHENTIC है. इस पर अगर किसी को भी  कोई शुबह हो ज़रूर बताये. मेरा यह लेख श्री. खुशदीप सहगल जी को समर्पित है, जिन्होंने मुझे इस पर शोध करने और लिखने को प्रेरित किया. इस लेख को लिखने में मैं श्री. अजित वडनेरकर जी का भी आभारी हूँ, जिन्होंने शब्द संयोजन में मेरी मदद की.


हम में से कई लोगों को इस ओ.के. (O.K.) के बारे में नहीं पाता है. सिर्फ चूकि यह प्रचलन में है,  और सिर्फ बोलने के लिए इसे बोलते हैं. खैर! जब हम शब्दकोष भी देखते हैं, चाहे वो Cambridge, ऑक्सफोर्ड, Brittanica, या फिर  Wren & Martin ही क्यूँ न हो? उसमें हमें यही मिलता है कि इसका मतलब ALL IS CORRECT (सब सही है) है. और यह ORL OR OLL KORREKT का संक्षिप्त रूप है.  अगर यह ORL OR OLL KORREKT का संक्षिप्त रूप है, तो फिर ORL OR OLL KORREKT क्या है? इसका मतलब क्या है? इसकी उत्पत्ति क्या, क्यूँ और कैसे है? क्यूँ ओ.के. (O.K.) ORL OR OLL KORREKT का संक्षिप्त रूप है?


आइये अब जानें इस ओ.के. (O.K.) को?


ओ.के. (O.K.) सारत्व रूप से अमरीकन शब्द है जो अंग्रेजी भाषा से दूसरी भाषाओं में भी फैला है. काफी सालों तक यह ओ.के. (O.K.) शब्द अकादमिक रूप से बहस का विषय बना रहा जब तक के ALLEN WALKER READ ने यह न साबित कर दिया कि   यह ओ.के. (O.K.) एक बेवकूफाना शब्द है जो कि मज़ाक में शुरू हुआ और इसका इस्तेमाल मसखरेपन के लिए किया गया. ओ.के. (O.K.) शब्द को दस्तावेज़ी रूप में सन 1839 में दर्ज किया गया, जबकि यह 1839 से पहले ही प्रचलन में था.
1830 के दौरान अमरीका के BOSTON, MASSACHUSETTS के अख़बारों में एक मजाकिया प्रचलन था कि किसी भी  वाक्य-खंड (PHRASE) के आरंभिक अक्षरों के अक्षर (INITIALS) को छोटा कर के लिखा जाये और फिर उनका विवरण PARENTHESIS ( ) में पूरा लिखा जाये. कई बार मज़ाक का पुट देने के लिए इन संक्षिप्त रूप में लिखे गए शब्दों के विवरण कि वर्तनी (SPELLINGS)  गलत कर दी जाती थी.  यह आज भी आप अब भारतीय अंग्रेजी अख़बारों में भी  देख सकते हैं.  इसी के तहत BOSTON के अख़बारों ने ओ.के. (O.K.) शब्द जिसका मतलब अंग्रेज़ी में ALL CORRECT (सब सही है.) होता है को ORL OR OLL KORREKT (OK) लिखना शुरू  किया. एक बात और कि यह ORL OR OLL KORREKT भी एक सही शब्द है. इसका इस्तेमाल सिर्फ अंग्रेज़ी में मज़ाक का पुट देने के लिए किया गया था.


आईये अब आपको बता दूं कि ORL OR OLL KORREKT अंग्रेज़ी भाषा का शब्द नहीं है, यह डच (DUTCH) भाषा का शब्द है जिसका मतलब ALL CORRECT (सब सही है.) होता है. जिसको BOSTON  के अख़बारों ने मजाकिया पुट देने के लिए अंग्रेज़ी में शामिल कर लिया. अब जैसा कि मालूम है सबको कि अंग्रेज़ी इसीलिए इतनी समृद्ध है क्यूंकि इसने हमेशा दूसरी भाषाओं कि इज्ज़त की और उनके भाषा से अपने शब्द समूह को मज़बूत किया. तो यह कोई नयी बात नहीं है. और तबसे यह अंग्रेज़ी में प्रचलित हो गया. अमरीकी अख़बारों ने उस वक़्त अमरीकनों को यह नहीं बताया कि यह एक डच शब्द है, जिसमें सिर्फ वर्तनी का अंतर था जबकि मतलब एक ही था (ALL CORRECT)...


इसी के साथ ही साथ इस ओ.के. (O.K.) शब्द का इस्तेमाल और इसको प्रचलित करने में अमरीका के आठवें राष्ट्रपति MARTIN VAN BUREN (1837 से 1841) का भी योगदान था. सन 1840 में जब MARTIN VAN BUREN दोबारा राष्ट्रपति चुनाव के लिए खड़े हुए तो इस ओ.के. (O.K.) शब्द का इस्तेमाल उन्होंने अपने चुनाव अभियान में किया. MARTIN VAN BUREN डेमोक्रेट (DEMOCRAT) पार्टी से चुनाव लडे  थे और उनके अनुयायिओं ने पार्टी निर्देश  के अनुसार O.K. ओ.के. (O.K.) CLUB बनाया था, क्यूंकि MARTIN VAN BUREN न्यूयार्क के OLD KINDERHOOK (OK) नामक गाँव के रहने वाले थे.  इसलिए उनके गाँव OLD KINDERHOOK के नाम का संक्षिप्त रूप OK था . इस O.K. को उस चुनाव में ALL CORRECT (सब सही  है.) के रूप में प्रचारित किया गया था, जिसका मतलब उस वक़्त यह था कि डेमोक्रेट पार्टी ही सही है. एक बात और बता दूं कि MARTIN VAN BUREN पहले ऐसे राष्ट्रपति थे जिनकी पैदाइश अमरीकन थी परन्तु वंशावली (ANCESTRY) डच (DUTCH) थी. उनके पिता डच थे जो कि सन 1762 में अमरीका के न्यूयार्क शहर के  OLD KINDERHOOK नामक गाँव में आकर बस गए थे और यहीं 1782 में MARTIN VAN BUREN का जन्म हुआ. 


सन 1840 में MARTIN VAN BUREN ने इस O.K. को अपने चुनाव अभियान से जोड़ा, क्यूंकि इससे उनका दो फायदा हो रहा था, एक तो उनकी पार्टी ही सही है का सन्देश जा रहा था और दूसरा यह उनका गाँव भी था. परन्तु MARTIN VAN BUREN चुनाव हार गए... तो पूरे अमरीका ने उनके इस O.K. का बहुत मज़ाक उड़ाया. तबसे यह ओ.के. (O.K.) शब्द मज़ाक के रूप में प्रचलित हो गया. उनके चुनाव अभियान में यह नारा (SLOGAN) भी था "VOTE FOR O.K BECAUSE HE IS OLL KORREKT".


सन 1840 में ही MARTIN VAN BUREN  और उनकी डेमोक्रेट पार्टी ने इस O.K. को PATENT कराना चाहा लेकिन पेटेंट कार्यालय ने यह कह कर पेटेंट करने से मना कर दिया कि जो बेवकूफी मज़ाक में शुरू कि गयी थी अब वो दैनिक जीवन में शब्द का रूप ले चुकी है, इसलिए इसका पेटेंट नहीं हो सकता.


ओ.के. (O.K.) को अंग्रेज़ी व्याकरण में संज्ञा (NOUN) के रूप में 1841 में दस्तावेज़ी रूप से दर्ज किया गया, विशेषण (VERB) के रूप में 1888  में और INTERJECTION के रूप में आधिकारिक रूप से सन 1890 में दर्ज किया गया. 


आज ओ.के. (O.K.) ने संसार भर में एक पहचान बना ली है. और यह हर प्रकार के भाषा और लेखनी में पाया जाता है. 







79 टिप्पणियाँ:

'अदा' ने कहा…

Dekh liya hai ki aapki nayi post aayi hai...
Comment baad mein karte hain filhaal sirf
JAI HIND !!

shikha varshney ने कहा…

क्या इतिहास ढूँढ निकला है ओ के का ...वाह भाई वाह आपको तो पुरतत्व विभाग में होना चाहिए कहाँ- कहाँ से सूत्र और तथ्य ढूँढ निकाल लाते हैं..बहुत अच्छे काफी जानकारी मिली शुक्रिया.

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक ने कहा…

महफूज अली जी!
बहुत ही बढ़िया जानकारी दी है आपने तो।
बधाई !

डॉ. रूपचन्द्र शास्त्री मयंक ने कहा…

महफूज अली जी!
बहुत ही बढ़िया जानकारी दी है आपने तो।
बधाई!

Mumukshh Ki Rachanain ने कहा…

o.k. हा! हा!! हा!!!!!!!!!!!!!!!!!!

बधाई
चन्द्र मोहन गुप्त
जयपुर
www.cmgupta.blogspot.com

M VERMA ने कहा…

O.K., अब समझ मे आया इस O.K. का असली रूप.
बहुत गहराई तक उतर कर शब्दो का विश्लेषण करते है. गहन अध्ययन --
बहुत बढिया

संगीता पुरी ने कहा…

ओके के बारे में बहुत ही सारगर्भित जानकारी दी है .. खासकर यह कहना कि ओ.के. (O.K.) को अंग्रेज़ी व्याकरण में संज्ञा (NOUN) के रूप में 1841 में दस्तावेज़ी रूप से दर्ज किया गया, विशेषण (VERB) के रूप में 1888 में और INTERJECTION के रूप में आधिकारिक रूप से सन 1890 में दर्ज किया गया., आपके रिसर्च को अधिक तथ्‍यपूर्ण बनाता है !!

Udan Tashtari ने कहा…

ok, बड़ा ज्ञानवर्धक रहा जानना!! आभार.

Nirmla Kapila ने कहा…

oओ के जी ओके आपकी पोस्ट ओके है ये तो पूरा पुराण लिख दिया ओके पर अच्छी जानकारी है धन्यवाद ओके

'अदा' ने कहा…

सबसे पहले तो खुशदीप जी का धन्यवाद जिन्होंने ..महफूज़ जी को प्रेरित किया OK पर शोध करने के लिए ...
और अब महफूज़ साहब.....अजी आपकी तारीफ में तो कसीदे पढ़ते-पढ़ते हम शब्दों से कंगले हो गए हैं ...अब क्या कहें...
इस आलेख को भी किसी न किसी अखबार में जगह मिल ही जायेगी.....लगता है अखबार वाले भी आपकी ताक में ही बैठे रहते हैं.....कि कब महफूज़ मियां कुछ लिखे और हम छापें ....उनकी भी TRP बढती है न !!
OK ...हमने कहीं पढ़ा था कि इस्शब्द का उपयोग सबसे पहले हिटलर ने अपनी किसी मीटिंग के दौरान किया था....All korect के लिए और आज तक हम उसे ही सच मानते रहे....लेकिन आपके इस गहन शोध ने कुछ और ही बताया ...चलिए हमारे सामान्य ज्ञान में थोडी सी और बढोत्तरी हो गयी है आपकी कृपा से....
बस अब क्या सबकी शुभकामनाएं और बड़ों का आशीर्वाद हैं ही, जीतने का जूनून है, और सीखने का ज़ज्बा है फिर कौन रोकेगा आपको आगे बढ़ने से बढ़ते जाइए.....बढ़ते जाइए...और हमेशा खुश रहिये...

विपिन बिहारी गोयल ने कहा…

रोचक और सारगर्भित जानकारी के लिए शुक्रिया

Rakesh Singh - राकेश सिंह ने कहा…

हम तो अभी तक बस OK बोलते ही रहे. कभी सही अर्थ जानने की कोशिश ही नहीं की और शायद कोशिश करता भी नहीं |

बहुत अच्छी जानकारी दी, आपने तो OK शब्द का इतिहास ही खंघाल डाला |

धन्यवाद ..

ashokemehta ने कहा…

अली साहब आप का रिसर्च बहुत अच्छा है ,लेकिन मुझे मेरे बचपन की हलकी धुंधली सी एक बात याद आरही है ! मेरे पिताजी के एक अंग्रेज मित्र थे उन्होंने मुझे OK का स्पेलिंग OKEY बतलाया था ! अभी WORDWEB से भी चेक किया तो ओके का स्पेलिंग इस प्रकार लिखी हुई है -Being satisfactory or in satisfactory condition,In a satisfactory or adequate manner कहीं कुछ गलत फहमी तो नहीं हो रही है

सैयद | Syed ने कहा…

ओ.के ... :)

एक बेहतरीन जानकारी देने के लिए शुक्रिया..

अनिल कान्त : ने कहा…

बहुत लाजवाब जानकारी दी है आपने

sanjay vyas ने कहा…

ओके पर इतनी जानकारी एकसाथ देखने का ये दुर्लभ अवसर है.इसके लिए आपको और आपके परिश्रम को बधाई.लगभग शोध जैसा है ये आलेख.

अम्बरीश अम्बुज ने कहा…

accha research kiya hai aapne..
ab to aur kya kahein.. OK..

Mithilesh dubey ने कहा…

भईया अब हम क्या कहें आपकी इस रचना को लेकर। जितनी भी तारीफो के शब्द थे वे तो आप ने पहले ही लूट लिए है अब तो कुछ रहा ही नहीं देने को। जनाब अब तो हमको लगता है कि कहीं अंग्रजी के संस्थापक आप ही तो नहीं थे जिस तरह आप इन सबके बारे में जानकारियां देते है इसलिए थोडा कनफ्युजन हो रहा है। खैर आप ने एक बार फीर अपने आदत स्वरुप जानकारि से भरा और मजेदार रचना ले के आयें उसके लिए आपका आभारी हूँ।

चंदन कुमार झा ने कहा…

अरे वाह भैया 0.k. शब्द के बारे में इतनी सारी जानकारी !!!!!!! । पढ़कर बहुत मजा आया । भैया बहुत अच्छा काम कर रहे है आप ।

Shefali Pande ने कहा…

badhiya khoj.....O K

Devendra ने कहा…

O.K.

शरद कोकास ने कहा…

अच्छा आलेख है लेकिन शब्द संयोजन थोड़ा बिखरा सा है इसे व्यवस्थित करो । यह और संक्षेप हो सकता है । दूसरी बात हाइलाएट करने के लिये रंगों की ज़रूरत नही है इससे पढ़ने मे व्यवधान होता है । अजित जी का ब्लॉग देखो । तीसरी बात .. बस बढिया है और क्या ? एक किस्सा भी सुन लो ओके का । लन्दन मे एक भारतीय से बरसो बाद उनके मित्र मिले पूछा ,भाभी कैसी है ? मित्र ने कहा ओके । बच्चे कैसे है मित्र ने कहा ओके । और पिताजी ? मित्र बोले उन्हे तो ओके हुए चार साल हो गये । ( मूल किस्सा जगजीत जी के केसेट मे है वहाँ ओके की जगह आल् राइट है । बात एक ही है । ओके फिर मिलेंगे ।

Satindra ने कहा…

शब्द नहीं मिल रहे हैं तरीफ करने के लिए
बस यही कहना चाहता हूँ
नशा हो, जुनून हो, या कोई आफ़ताब हो तुम
सबसे जुदा सा है, ये ‘अंदाज़-ए-बयान’ तुम्हारा !


बिल्कुल यही टिप्प्णी एक बार हमने खुशदीप जी के ब्लाग पर भी की थी और आज आप की मेहनत देख कर यही टिप्प्णी सबसे उप्युकत लगी...
सारगर्भित जानकारी देने के लिये शुक्रिया !

जय हिंद

परमजीत बाली ने कहा…

बहुत ही बढ़िया जानकारी दी है आपने |

विनोद कुमार पांडेय ने कहा…

बहुत अनोखे अनोखे जानकारी प्रस्तुत करते है आप जिसे पढ़ कर अच्छा भी लगता है और जानकारी भी मिल जाती है..
धन्यवाद

ambrish kumar ने कहा…

rochak

अजित वडनेरकर ने कहा…

बढ़िया शोध। आप मुझे इसकी सूचना देने वाले थे, पर वो मेल अभी तक आ रहा है:)

सारी जानकारी एक जगह उपलब्ध हो गई। यह शब्द उन शब्दों की फेहरिस्त में शामिल है जो दुनियाभर में सर्वाधिक बोले जाते हैं और जिनकी उत्पत्ति पर बहस होती रहती है, मगर अभी तक एकराय कायम नहीं हो सकी है।

यह बताना ज़रूरी है कि कोलंबिया यूनिवर्सिटी के प्रोफेसर एलन रीड ने बीस वर्ष इस द्विवर्णी शब्द की शोध करने में खपाए थे। पहली बार इसका इन्द्राज 1830 के दस्तावेजों में पाया गया। प्रो रीड ने 1961 में अपना शोध प्रस्तुत किया। हालांकि उसके बाद भी इस पर लगातार लोग काम कर रहे हैं। इससे जाहिर होता है कि शब्दों के जन्मसूत्रों की तलाश भाषा के शौकीनों के लिए एक जूनून होता है। इसके बावजूद भाषाविज्ञानी अभी भी इसके उद्गम के बारे में एकमत नहीं हैं।

महफूज़ अली ने कहा…

@ SHRI . AJIT VADNERKAR JI.........

आदरणीय वडनेरकर जी.... दरअसल मेरे इस ब्लॉग के साथ एक दिक्कत यह है कि मेरी लोगिन ID दूसरी है..... और प्रिंसिपल मेल ID दूसरी है..... मैं ब्लॉग की ID मेल के लिए बिलकुल भी इस्त्मेमाल नहीं करता हूँ..... और इत्तेफाक से मैंने आपको ब्लॉग की ID से मेल भेजी.... और मैंने .अजित के पहले स्पेस लग गया गलती से..... अभी मैंने चेक किया तो MAIL DAEMON FAILURE की रिपोर्ट आई है..... और मैंने सोचा था की आपको मेल मिल गयी है..... और मैं बहुत कm ही ब्लॉग की लोगिन मेल ID पे जाता हूँ..... खोलने..... अभी चेक किया तो रिपोर्ट failure दिखी..... इसके लिए मैं आपसे मुआफी चाहता हूँ..... यह लोगिन वाली बात ज्यादातर ब्लोग्गेर्स को मालूम है..... क्यूंकि मैं अपनी प्रिंसिपल ID पे रह कर दूसरों के ब्लॉग पर कमेन्ट नहीं कर पाता हूँ......... मुझे कमेन्ट करने के लिए भी अपनी प्रिंसिपल ID से लोग आउट होकर ब्लॉग आई डी पर जाना पड़ता है.... इसलिए मैं आपसे मुआफी चाहता हूँ.....की मेल फ़ैल हो गयी एक स्पेस लग जाने के कारण....

अर्कजेश ने कहा…

सब ऒ.के. है ...

काफ़ी मेहनत कर डाली आपने ...

Apoorv ने कहा…

भाई वैसे तो मैने भी इस शब्द पर कुछ रिसर्च की थी..सहज उत्सुकतावश ;-)
मगर आपने कुछ नये और गूढ़ बातों पे रोशनी डाली है..शुक्रिया

शिवम् मिश्रा ने कहा…

बहुत ही बढ़िया जानकारी दी है आपने!
बधाई!आभार|

खुशदीप सहगल ने कहा…

महफूज़ भाई...सबसे पहले तो लेट होने के लिए माफी...क्या करें पापी पेट के लिए पापड़ भी बेलने पड़ते हैं...दूसरी बात आज से आप मेरे लिेए डॉक्टर महफूज़ अली हो...सौ यूनिवर्सिटी भी तुम्हें (यार तुम्हारे लिए चाह कर भी आप नहीं लिख पा रहा) पीएचडी दे तो वो भी कम होगी...पहले टाटा और अब ओ.के...अब कौन कमबख्त तुम्हें कभी ओ.के. कहकर टाटा कहने की हिम्मत करेगा...यार तुम बिज़नेस वगैरहा के टंटे में कैसे पड़ गए...समझ सकता हूं अब्बाजी के न रहने से सभी ज़िम्मेदारियों को निभाना पड़ रहा होगा...लेकिन यार अगर तुम ह़ॉवर्ड, ऑक्सफोर्ड या कैम्ब्रिज में होते तो एक नोबेल तो ज़रूर और भारत के खाते में आ जाता...अब मेरी एक भविष्यवाणी और सुनो...टाटा की तरह जल्द ही किसी अखबार में अपनी इस पोस्ट को देखोगे....

आखिर में बड़े भाई वाली एक प्यारी सी डांट...जो शरद कोकास जी ने कहा है वो अक्षरक्ष अगली पोस्ट मे होना चाहिए...

जय हिंद...

Shobhna Choudhary ने कहा…

aap kafi research karte hai aise topics par...vakai aapke blog se kafi information milti hai....aapki next post ka wait rahega....gud wishes

पं.डी.के.शर्मा"वत्स" ने कहा…

भई वाह्! इतने छोटे से शब्द का इतना गहन विश्लेषण कर डाला आपने....
आपकी इस पोस्ट से ज्ञान में वृ्द्धि हुई.....
आभार्!

वाणी गीत ने कहा…

ओके शब्द की उत्पत्ति किसी मजाक के तौर पर हुई थी ...यह लेख पढने से पहले यह मजाक ही लगता ....वैसे इन्टरनेट पर तो ओके को सिर्फ के ही कहा जाता है ...शोध का विषय है ना ये भी
तुम्हार लेखों में तुम्हारी मेहनत , सच जानने की जिज्ञासा ...जूनून साफ़ झलकता है ...और फिर कठोर परिश्रम तो ऎसी शानदार पोस्ट के रूप में रंग लाता ही है ...ऐसी अनेकानेक प्रविष्टिया तुम्हारा नाम और यश बढाये .. शुभाशीष ...खुश रहो ...!!

हिमांशु । Himanshu ने कहा…

प्रविष्टि में एक शब्द की उत्पत्ति. उसके विकास, और उसके प्रचलन का बेहतर खाका खींचा है आपने । अजित जी ने जैसा कहा है अपनी टिप्पणी में कि यह अंग्रेजी भाषा के बहुप्रचलित शब्दों में एक है और इसकी व्युत्पत्ति को लेकर भी शब्द्शास्त्री एकमत नहीं हैं ।

आपने अत्यन्त परिश्रम से जुटाया, जोड़ा है सब कुछ । आभार ।

Suman ने कहा…

इसका इस्तेमाल मसखरेपन के लिए किया गया.nice..................nice.............................nice.....................

Arvind Mishra ने कहा…

ओके डियर

ab inconvinienti ने कहा…

OK Thanks buddy!

जी.के. अवधिया ने कहा…

बहुत ही ज्ञानवर्धक लेख!

"अंग्रेज़ी इसीलिए इतनी समृद्ध है क्यूंकि इसने हमेशा दूसरी भाषाओं कि इज्ज़त की और उनके भाषा से अपने शब्द समूह को मज़बूत किया."

वास्तव में अंग्रेजी की यह विशेषता रही है कि इस भाषा ने अन्य भाषाओं के शब्दों को उदारतापूर्वक अपना लिया है। यहाँ पर मैं एक और जानकारी देना उचित समझता हूँ कि अंग्रेजी भाषा में मूलतः सिर्फ 800 शब्द हैं और उन्हीं में prefix और suffix जोड़ कर अंग्रेजी के अनगिनत शब्द बना लिए गए हैं। मेरे स्व. पिताजी के पास एक पुस्तक थी जिसके एक ही पृष्ठ में उन 800 शब्दों को दर्शाया गया था। मुझे दुःख है कि वो पुस्तक बर्बाद हो गई और मुझे उस पुस्तक का नाम भी याद नहीं है। यदि किसी को इस पुस्तक के विषय में पता हो तो कृपया यहाँ उल्लेख करने का कष्ट करे।

ओ.के! ... टाटा!! :-)

ओम आर्य ने कहा…

जानकारी बढिया और विस्तृत है .....

पी.सी.गोदियाल ने कहा…

अली साहब अच्छी जानकारी और जानकारी पूर्ण प्रसंग ! मगर कुछ कहना चाहूंगा : जैसा कि आपने कहा कि Martin Van Buren के पिता न्यूयार्क के Old kinderhook गाँव में बस गए थे तो वास्तव में गाँव का नाम "old kinderhook " नहीं था, सिर्फ "kinderhook" था और चूँकि Buren की पैदाइश kinderhook थी इसलिए उसका निक नेम लोगो ने old kinderhook रख दिया और जिसका शोर्ट फोर्म O.K. बना !
दूसरा जो लोगो का मत है वह यह भी है : "O.K." is the abbreviation (spelled correctly) of the Greek expression, Ola Kala (Ολα Καλά, ΟΚ) It is a standard expression in Greece that simply means: "Everything's fine".

sada ने कहा…

जितना आसान है ओ के कह देना, उतनी ही गूढ़ और ज्ञानवर्धक बातें आपने सबके साथ साझा की जिसके लिये आपका आभार, भविष्‍य में वह नई जानकारियां जिनकी खोज में आप प्रयासरत हैं उनके लिये शुभकामनाएं ।

Anil Pusadkar ने कहा…

पोस्ट इज़ ओ के।कमेण्टस आर आल्सो ओ के।आई थिंक एवरी थिंग इज़ ओ के।हा हा हा हा बताईगा ज़रुर मेरा कमेण्ट कैसा लगा,ओ के।मिलते है फ़िर ओ के।बाय ओ के।

Vijay Kumar Sappatti ने कहा…
इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.
Vijay Kumar Sappatti ने कहा…

mahfooz bhai ;

maaf karna , pichala comment cut- copy-paste prakriya ka shikaar ho gaya tha ..

yaar , aapse baat karte hue kabhi pata hi nahi chala ki , ek kavi ke man me itna gahara shodhan kaary bhi basa padha hai ...

jai ho sir ji ..

i must appreciate your efforts..

aur haan aapka phone kyon nahi lag raha hai bhai .. aaj aap mujhe caal karo , kuch baate karna hai sir ji ...OK..

Regards

Vijay
www.poemsofvijay.blogspot.com

रश्मि प्रभा... ने कहा…

tumhare shodh se hamari jaankari me ijaafa ho raha hai.......
tumhare dwara in jankariyon ne bahut kuch sikhaya.....isi tarah aage badho

अजय कुमार झा ने कहा…

वाह महफ़ूज़ जी रोज नया मिजाज ..रोज नया अंदाज इसे ही तो कहते हैं ब्लोग्गिंग ..हम पढ रहे हैं.आज इस ओ के की जानकारी तो कमाल की रही

Suresh Chiplunkar ने कहा…

महफ़ूज़ भाई, हतप्रभ कर देने वाला शोध और सामग्री, उम्दा जानकारी खोज कर लाये हैं आप… इसे कहते हैं ब्लॉगिंग…। हम पता नहीं कहाँ झख मार रहे हैं…

पंकज बेंगाणी ने कहा…

इस अमूल्य जानकारी के लिए बहुत धन्यवाद. ऐसे ही लिखते रहें

Dipak 'Mashal' ने कहा…

kitni mehnat aur research kar lete hain aap jab kisi baat ke peechhe pad jayen to. shabd ke dada pad dada ko bhi kabron se nikal late hain. aise gyanwardhak lekh sab likhne lagen to blogging sarthak ho jaye. badhai bhai jaan.

Babli ने कहा…

वाह बहुत बढ़िया लगा! आपने बहुत ही अच्छी और ज्ञानवर्धक जानकारी दी है! अब तो इस ओके के बारे सही तरह से मालूम हो गया! कमाल का पोस्ट लिखा है आपने! बहुत ही सुंदर और विस्तार से आपने लिखा है ! अच्छा लगा!

mehek ने कहा…

bahut achhi jankari rahi.

बेनामी ने कहा…
इस टिप्पणी को एक ब्लॉग व्यवस्थापक द्वारा हटा दिया गया है.
kavita ने कहा…

Kudos to such a well researched and well described post....there are so many facts in this post that i am learning for the very first time.Thanks ,for such an informative and interesting post.

महफूज़ अली ने कहा…

@ benaami........ (Comment Deleted)

bhai plz ulte seedhe blogs ka link na den... badi meherbani hogi...

ज़ाकिर अली ‘रजनीश’ ने कहा…

वाह भाई, ओके करता हूँ आपकी मेहनत को। बडी जतन से पोस्ट लिखते हैं आप। मैं आपकी इस लगन को सलाम करता हूं।
-Zakir Ali ‘Rajnish’
{ Secretary-TSALIIM & SBAI }

sangeeta ने कहा…

aapka lekh padha...sach ahi is shabd ka prayog bahut adhik hota hai...aur aaj O.K. ke baare men jankari prapt kar bahut achchha lag raha hai...
is vishay par kafi shodh kiya hai aapne...mahattvpurn jankaari dene ke liye bahut bahut shukriya

दिगम्बर नासवा ने कहा…

ACHEE JAANKAARI MAHFOOZ JI ...... AAPKI KHOJI PRAVARTI LAJAWAAB HAI ...KAHAAN KAHAAN SE LE KAR AATE HAIN .........

अमृत पाल सिंह ने कहा…

आपका ब्लाग पढकर कम से कम अच्छी जानकारी ज़रूर मिल जाती है। एक अच्छी पोस्ट के लिये शुक्रिया।

डॉ टी एस दराल ने कहा…

भई, कमाल की रिसर्च की है आपने. एक मासूम से लफ्ज़ को हीरो बना दिया.
बहुत बढ़िया, भई. बस थोडा छोटा होता तो, ठीक था. बधाई

अजित वडनेरकर ने कहा…

महफ़ूजजी,
कृपया मेरे नाम के साथ आपने जो शब्दसंयोजन का संदर्भ जोड़ा है उसे बदल दें। आपने मुझसे जो मदद मांगी थी उसके लिए यह शब्द कतई ग़लत है। शब्द-संयोजन वहीं है जो शरद कोकास कह रहे हैं।
आपने मुझसे जो कहा, जो मैने बताया उसके लिए कोई वाजिब सा शब्द तलाशें। या फिर मेरा नाम हटा दें। इतनी छोटी बातों के लिए वैसे भी ये रेफरेंस अच्छे नहीं लगते। असली संदर्भ तो ज्ञान-संपदा का होता है।

Dr.Aditya Kumar ने कहा…

Research based good article.Your efforts are appreciable.

Science Bloggers Association ने कहा…

आपकी पोस्ट को ओके किया जाता है, अच्छा लगा इतनी सारी जानकारी पाकर।
----------
डिस्कस लगाएं, सुरक्षित कमेंट पाएँ

seema gupta ने कहा…

बेहद महत्वपूर्ण जानकारी समेट लाने और हमारा समान्य ज्ञान बडाने के लिए आभार
"o.k"

regards

"लोकेन्द्र" ने कहा…

तो आज हमें मिल ही गया o.k. का इतिहास.....
धन्यवाद ज्ञान वर्धन के लिए........

महफूज़ अली ने कहा…

@ Ajit vadnerkarji.........

Aadarniya Ajit ji..........

darasal mujhe yeh kahte huye sharm aa rahi hai...... ki mera haath hindi mein zara tang hai........ mujhe jab bhi kisi shabd ka translation karna hota hai to sharad bhaiya ko hi fone kar ke poochta hoon.... ab ek galti yeh ho gayi ki mujhe waaqai mein sanyojan ka matlab nahin pata tha....... par yeh ek lay mein baith raha tha isliye ....likh diya......... ab pata chal gaya hai......... aur galat likhne ke liye muaafi chahta hoon........ ismein poori meri galti hai......... aur main apni galti accept karta hoon........ aur aapse iski muaafi chahta hoon.......

ab jab aapka aashirwaad hai to aainda aisi galti nahi hogi........


ummeed hai aap muaf kar denge.........


aapka chota bhai

Mahfooz.

महफूज़ अली ने कहा…

@ Ashok Mehta ji........

Ashokji...... OKEY ko aisa spell out America ke 28th President Thomas Woodrow Wilson ne 1919 mein kiya , iska pronunciaton OKEH hai.... lekin spelling OKEY hai.... Lekin ....... iska koi historical Documentation nahi hai........ yeh OKAY, OKEY mein bhi popular ho gaya.......aur OKEY-DOKE American students ke beech mein as a slang 1932 mein popular hua........

sadhana ने कहा…

jay ho.....
jankari to bahut achhi hai..

Pappu Yadav ने कहा…

aapka 69th comment dekha socha 70waan main mujhe hi lagana chahiye
ye rahe aapke 70 comments...
itni acchi post likhan hai aapne,
bahut saari jaankariyan di hain.
shukriya.

Pappu Yadav ने कहा…

aapka 69th comment dekha socha 70waan main mujhe hi lagana chahiye
ye rahe aapke 70 comments...
itni acchi post likhan hai aapne,
bahut saari jaankariyan di hain.
shukriya.

मोहन वशिष्‍ठ 9988097449 ने कहा…

दीपावली पर्व की आपको एवं समस्‍त परिवार को हार्दिक शुभकामनाएं वैभव लक्ष्‍मी आप सभी पर कृपा बरसाएं। लक्ष्‍मी माता अपना आर्शिवाद बरसाएं

Shilpa ने कहा…

It was a nice piece of information. I did know all this. Loved it.

ok ;)




shilpa

Shilpa ने कहा…

Oh sorry, i meant that i did not know all this.

दिगम्बर नासवा ने कहा…

महफूज जी ........
आपको और परिवार को दीपावली की हार्दिक शुभकामनाएँ

संजय भास्कर ने कहा…

बहुत सुन्दर रचना । आभार

ढेर सारी शुभकामनायें.

SANJAY KUMAR
http://sanjaybhaskar.blogspot.com

Dimps ने कहा…

Hi,

I got info about O.K. sometime 10 yrs ago by my teacher in school :) And you have written it very well...

Keep it going!
Regards,
Dimple

Mrs. Asha Joglekar ने कहा…

O.K. FINE.

Poonam ने कहा…

अच्छी जानकारी दी आपने. मैं इस भ्रम न\में थी की OK ,अंग्रेजी के OKAY का शोर्ट फॉर्म है.जानकारी के लिए धन्यवाद.

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

My page Visitors