बुधवार, 6 जनवरी 2010

मैं झूठ नहीं बोलता: महफूज़




मैं झूठ नहीं बोलता,
साहित्य-कला से क्या लेना?
ढूंढ रहा खुद को मैं,
खोज रहा प्याज़,
छिलकों में.....


Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

My page Visitors